Muhabbat Buri Hai Lyrics – Amanat Ali from the Movie , sung by Amanat Ali. The song is composed by Amanat Ali and the lyrics are penned by Amanat Ali. Discover more , songs lyrics...

Muhabbat Buri Hai Lyrics – Amanat Ali from sung by Amanat Ali. Learn, Muhabbat Buri Hai Lyrics – Amanat Ali meaning in English/Hindi

Song : Muhabbat Buri Hai
Singer: Amanat Ali
Lyrics: Amanat Ali
Music : Amanat Ali
Cast : Adnan Siddiqui, Zara Peerzada
Label : Sufiscore

Muhabbat Buri Hai Song Lyrics – Amanat Ali

Muhabbat Buri Hai, Buri Hai Muhabbat
Kahe Jaa Rahein Hain Kiye Jaa Rahein Hain
Muhabbat Buri Hai, Buri Hai Muhabbat
Kahe Jaa Rahein Hain Kiye Jaa Rahein Hain

Yeh Hai Zeher Meetha Yeh Meetha Zeher Hai
Kahe Jaa Rahein Hain Piye Jaa Rahein Hain
Muhabbat Buri Hai, Buri Hai Muhabbat
Kahe Jaa Rahein Hain Kiye Jaa Rahein Hain

Zamaane Ke Dukh Dard Gham Humko Dekar
Na Pucha Kabhi Haal Saahib Ne Mera
Zamaane Ke Dukh Dard Gham Humko Dekar
Na Pucha Kabhi Haal Saahib Ne Mera

Mere Chaak Daaman Daaman Chaak Mere
Kiye Jaa Rahein Hain Siye Jaa Rahein Hain
Muhabbat Buri Hai, Boori Hai Muhabbat
Kahe Jaa Rahein Hain Kiye Jaa Rahein Hain

Yeh Jhanjhat Unhi Ka Fase Bhi Hain Khud Hi
Na Roke Ruke Hain To Kaise Gile Hain
Yeh Jhanjhat Unhi Ka Fase Bhi Hain Khud Hi
Na Roke Ruke Hain To Kaise Gile Hain

Shikayat Musalsal Musalsal Shikayat
Kiye Jaa Rahein Hain Jiye Jaa Rahein Hain
Muhabbat Buri Hai, Buri Hai Muhabbat
Kahe Jaa Rahein Hain Kiye Jaa Rahein Hain

Main Khana Bana Kar Woh Baithe Hain Ghar Ko
Karenge Tarak Kaise Aadat Buri Ko
Main Khana Bana Kar Woh Baithe Hain Ghar Ko
Karenge Tarak Kaise Aadat Buri Ko

Tasalli Woh Dil Ko Woh Dil Ko Tasalli
Diye Jaa Rahein Hain Piye Jaa Rahein Hain
Muhabbat Buri Hai, Buri Hai Muhabbat
Kahe Jaa Rahein Hain Kiye Jaa Rahein Hain

Yeh Hai Zeher Meetha Yeh Meetha Zeher Hai
Kahe Jaa Rahein Hain Piye Jaa Rahein Hain
Muhabbat Buri Hai, Buri Hai Muhabbat
Kahe Jaa Rahein Hain Kiye Jaa Rahein Hain
Muhabbat Buri Hai, Buri Hai Muhabbat
Kahe Jaa Rahein Hain Kiye Jaa Rahein Hain.

Translated Version

मुहब्बत बुरी है, बुरी है मुहब्बत
कहे जा रहे हैं किये जा रहें हैं
मुहब्बत बुरी है, बुरी है मुहब्बत
कहे जा रहे हैं किये जा रहें हैं

ये है जेहेर मीठा ये मीठा जेहेर है
कहे जा रहे हैं पिए जा रहें हैं
मुहब्बत बुरी है, बुरी है मुहब्बत
कहे जा रहे हैं किये जा रहें हैं

ज़मानें के दुःख दर्द ग़म हमको देकर
ना पूछा कभी हाल साहिब ने मेरा
ज़मानें के दुःख दर्द ग़म हमको देकर
ना पूछा कभी हाल साहिब ने मेरा

मेरे चाक दामन दामन चाक मेरे
किये जा रहें हैं सीए जा रहें हैं
मुहब्बत बुरी है, बुरी है मुहब्बत
कहे जा रहे हैं किये जा रहें हैं

ये झंझट उन्ही का फसे भी हैं खुद ही
ना रोके रुके हैं तो कैसे गिले हैं
ये झंझट उन्ही का फसे भी हैं खुद ही
ना रोके रुके हैं तो कैसे गिले हैं

शिकायत मुसलसल मुसलसल शिकायत
किये जा रहें है जिए जा रहे है
मुहब्बत बुरी है, बुरी है मुहब्बत
कहे जा रहे हैं किये जा रहें हैं

मैंने खाना बना कर वो बैठे हैं घर को
करेंगे तरक कैसे आदत बुरी को
मैंने खाना बना कर वो बैठे हैं घर को
करेंगे तरक कैसे आदत बुरी को

तसल्ली वो दिल को वो दिल को तसल्ली
दिए जा रहें हैं पिये जा रहे हैं
मुहब्बत बुरी है, बुरी है मुहब्बत
कहे जा रहे हैं किये जा रहें हैं

ये है ज़हर मीठा ये मीठा ज़हर है
कहे जा रहे हैं पिये जा रहे हैं
मुहब्बत बुरी है, बुरी है मुहब्बत
कहे जा रहे हैं किये जा रहें हैं
मुहब्बत बुरी है, बुरी है मुहब्बत
कहे जा रहे हैं किये जा रहें हैं

Tip: You can learn the meanings of Muhabbat Buri Hai Lyrics – Amanat Ali in English/Hindi by hovering over the highlighted word.


Lyrics provided on Lyricstaal.com are for reference and education purpose only. We don't promote copyright infringement instead, if you enjoy the music then please support the respective artists and buy the original music from the legal music providers such as Apple iTunes, Saavn and Gaana.

lidyabet -

slotbar giriş

- meritroyalbet -

mersin escort

- eskisehirescort.asia